ई-पेपर English IPL 2022 राशिफल दुनिया देश राज्य शहर राजनीति खेल मनोरंंजन व्यापार टेक्नोलॉजी शिक्षा जुर्म जीवन शैली धर्म करंट अफेयर्स अजब गजब यात्रा
3.2k
0

सतना से हरिद्वार के बीच 5 माह चलेगी सुपर फास्ट स्पेशल ट्रेन , 17 जुलाई से शुरु करेगा वीकली गाड़ी  

डिजिटल डेस्क,सतना। जबलपुर से हरिद्वार के बीच 17 जुलाई से तकरीबन 5 माह के लिए प्रायोगिक तौर पर शुरु की जा रही वीकली यात्री गाड़ी जबलपुर-हरिद्वार सुपर फास्ट स्पेशल ट्रेन सतना को हरिद्वार से सीधे जोड़ देगी। पश्चिम मध्य रेलवे की सीपीआरओ प्रियंका दीक्षित ने बताया कि अप-डाउन पर इस गाड़ी के लिए कुल 23-23 फेरे तय किए गए हैं। माना जा रहा है कि अगर जबलपुर - हरिद्वार -जबलपुर सुपर फास्ट स्पेशल ट्रेन का रिस्पांस अच्छा रहा तो इसे वीकली के रुप में निरंतर या फिर नियमित भी किया जा सकता है। 

18 कोच, 14 स्टापेज 

इस साप्ताहिक सुपर फास्ट स्पेशल टे्रन में कुल 18 कोच होंगे। सर्वाधिक 7 स्लीपर कोच होंगे। एसी सेंकड का एक, थर्ड एसी और सामान्य श्रेणी के 4-4 और एसएलआर के 2 कोच होंगे। डाउन ट्रैक पर यानि हरिद्वार की ओर ये गाड़ी (संख्या-01701 ) हर बुधवार को दोपहर 3 बज कर 15 मिनट पर जबलपुर से प्रस्थान करेगी। जबकि अप ट्रैक पर यानि जबलपुर की ओर यही गाड़ी (संख्या-01702 )हर गुरुवार को  हरिद्वार से दोपहर 2 बज कर 45 मिनट पर गंतव्य के लिए रवाना होगी। सीपीआरओ ने बताया कि जबलपुर -हरिद्वार -जबलपुर  सुपर फास्ट स्पेशल ट्रेन (वीकली) को 17 जुलाई से 26 दिसंबर तक प्रायोगिक तौर पर चलाया जाएगा। जबलपुर से हरिद्वार के बीच वीकली सुपरफास्ट के कुल 14 स्टापेज होंगे। 

सिर्फ 18 घंटे का सफर 

इस सुपर फास्ट स्पेशल ट्रेन में सतना से हरिद्वार का सफर 18 घंटे का होगा। हरिद्वार की ओर जाने वाली यात्री गाड़ी हफ्ते के हर बुधवार शाम 6 बज कर 45 मिनट पर सतना पहुंचेगी और 10 मिनट के स्टापेज के बाद अगले दिन यानि गुरुवार को दोपहर 12 बज कर 55 मिनट पर हरिद्वार पहुंचेगी। ये गाड़ी मानिकपुर नहीं जाएगी और बांदा से कानपुर-लखनऊ का रुट पकड़ेगी। 

अभी उत्कल से लगते हैं 22 घंटे 

सतना से हरिद्वार के लिए अभी तक सीधी यात्री गाड़ी नहीं होने के कारण यात्रियों को पुरी से हरिद्वार के बीच जाने वाली उत्कल गाड़ी को पकडऩे के लिए कटनी के मुड़वारा जंक्शन जाना पड़ता था। सतना से कटनी के बीच डेढ़ घंटे की यात्रा के बाद मुड़वारा से हरिद्वार पहुंचने में यात्रियों को 22 घंटे लग जाते थे। उत्कल वैसे भी लेट लतीफी के लिए मशहूर गाड़ी है। माना जा रहा है कि  जबलपुर -हरिद्वार -जबलपुर  सुपर फास्ट स्पेशल ट्रेन की सुविधा मिल जाने से सतना के यात्रियों को लखनऊ के लिए एक और सीधी गाड़ी मिल जाएगी। इससे पीजीआई लखनऊ जाने वाले मरीजों को भी सुविधा होगी।  
 

Next Story

आईसेक्ट द्वारा आयोजित किया गया रक्तदान अमृत महोत्सव

डिजिटल डेस्क, भोपाल। अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों के अपने उत्तरदायित्वों को निभाते हुए आईसेक्ट एवं रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में “रक्तदान अमृत महोत्सव- ब्लड डोनेशन” की अनूठी पहल की गई है। इसके तहत आईसेक्ट मुख्यालय के कॉर्पोरेट एचआर टीम ने नोबल मल्टीस्पेशिलिटी हॉस्पिटल एवं कार्डिक यूनिट की सहायता से हाल ही में स्कोप कैंपस में ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया। इसमें आईसेक्ट समूह एवं उसके अनुशांगिक संस्थानों के....... लोगों ने सहभागिता करते हुए रक्तदान किया और कार्यक्रम को सफल बनाया।कार्यक्रम के आयोजन में नोबल हॉस्पीटल से डॉ. पंकज सूद एवं डॉ. निधि शर्मा और आईसेक्ट एचआर टीम की ओर से सुमित मल्होत्रा, सोनाली शुक्ला और अभिषेक का विशेष सहयोग रहा।

आईसेक्ट की इस पहल के बारे में बताते हुए आईसेक्ट के निदेशक श्री सिद्धार्थ चतुर्वेदी ने कहा कि आईसेक्ट अपने सामाजिक जिम्मेदारियों के प्रति पूरी तरह सजग है इसलिए नियमित रूप से समाज की बेहतरी के लिए ऐसी अनूठी पहल करता रहता है। इसी श्रृंखला में रक्तदान अमृत महोत्सव भी एक ऐसा ही प्रयास है। आगे भी आईसेक्ट कई गतिविधियों का आयोजन करता रहेगा जिससे अपने सामाजिक जिम्मेदारियों को पूरा कर और बड़ी संख्या में लोगों को जोड़कर अन्य लोगों को भी प्रोत्साहित कर सकें। 
 

Next Story

जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए अनिल भसीन ने अपनी नई किताब "रीसेट योर लाइफ" के लॉन्च के माध्यम से एक सरल रूपरेखा को शेयर  किया है

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। हम सभी ने अपने जीवन के किसी न किसी अवस्था में असफलताओं का सामना किया ही होगा क्योंकि यह हम सबके लिए  एक आम बात जैसीही होती है। ऐसे समय में, हर कोई व्यक्तिसफलता प्राप्त करने की ख्वाहिश  का बेसब्री से इंतजार करता ही है। हालांकि,इसके लिए आपने अपने दृष्टिकोण को बदलने, शुभचिंतकों और सलाहकारों से राय लेने या सलाह लेने के अनेक प्रयास किए होंगे, लेकिन इन सबके अलावा एक और चीज भी हो सकती है जो आपकी विचार प्रक्रिया और जीवन-धारा के रुख को बदलने में मदद कर सकती है। और वो चीज़ है - प्रेरक पुस्तकों को अपना जीवन संबल बनाना।

अनिल भसीन एक प्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर होने के साथ एक प्रसिद्ध लेखक भी हैं और उनकी लिखी पुस्तक - *अपने जीवन को रीसेट करें- सफलता प्राप्त करने की सरल रूपरेखा”, एक ऐसी पुस्तक है जो आपको सफलता की सीढ़ी को चढ़ने का एक अमूल्य संदेश दे सकती है।

स्वयं को'रीसेट योर लाइफ' से प्रेरित करें

जीवन में कभी-कभी ऐसा भी होता है जब आप अपनी असफलताओं से भरे समय से खुद को बाहर निकालने और अपनी जिंदगी को फिर से शुरू करने में स्वयं को सक्षम नहीं पाते हैं। तब उस समय व्यक्ति को अपने जीवन को पटरी पर लाने के लिए एक मजबूत प्रोत्साहककी ज़रूरत महसूस होती है। *'रीसेट योर लाइफ'*आपके जीवन को मजबूती देने वाली वह बाहरी ताकत है जो आपको आगे बढ़ने के लिए कमर कसने के लिए प्रेरित कर सकती है। तो क्यों न आप  अपने जीवन में खुशनुमा परिवर्तन लाने के लिए एक बार इस पुस्तक को हाथ में लेकर देखें!

अनिल भसीन ने अपनी विकास यात्रा में निजी और पेशेवर जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक रूप से अनुभव किए गए तजुर्बों को इस पुस्तक में समेटने का अथक प्रयास किया है।रोजगार ढूँढने वाले एक सामान्य युवक अनिल से लेकर 1.3 बिलियन डॉलर की कंपनी हैवेल्स के अध्यक्ष अनिल भसीन बनने तक की विकास यात्रा में पाठक उस सूत्र को देख सकते हैं जिसके माध्यम से वो एक अनुभवी और सफल व्यक्तित्व के रूप में उभर कर आते हैं। सुनिश्चित सफलता प्राप्त करने के लिए बनाई गई यह रूपरेखा असंदिग्ध रूप से ही आपके जीवन को फिर से व्यवस्थित करते हुए आपको सफलता की ओर ले जासकती है।

अनिल के उत्थान और व्यावहारिक दृष्टिकोण को उनकी पुस्तक में कोडित एम-सी-ए सूत्र में देखा जा सकता है। उनके जीवन की कहानियां पाठकों को इस सूत्र और उसकी उपयोगिता को समझने में मदद करती हैं।

सफलता के लिए एमसीए फॉर्मूला
अनिल भसीन द्वारा लिखी गई इस प्रेरक पुस्तक के शब्दों और पंक्तियों के ताने-बाने में, आप सफलता के लिए लेखक के एम-सी-ए फॉर्मूले को बहुत आसानी से देख सकते हैं: 

●    अपनी मानसिकता को रीसेट करें
●    अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए स्पष्ट रहें 
●    अपने लक्ष्यों प्राप्त करने के लिए ठोस कार्य करें 

इसके साथ ही अनिल भसीन का यह भी दृढ़ विश्वास है कि हर किसी को निश्चित रूप से अपनी असफलताओं से बाहर निकलने और अपने जीवन का 'रीसेट' बटन दबाने का मौका मिलता है। दरअसल,यह अनूठा सूत्र तीन गुना स्तर पर काम करता है और जो भी आप अपनी जिंदगी में प्राप्त करना चाहते हैं उसे प्राप्त करने का आश्वासन भी देता है। इसके बाद , आप अपनी सफलता की यात्रा को शुरू कर सकते हैं।
इस किताब के हर पेज और हर शब्द के बीच में कहीं न कहीं आपको वह मिल जायेगा जो आपके जीवन में सफल होने के लिए नितांत आवश्यक हो सकता है।और इसके साथ ही जीवन की चुनौतियों और असफलताओं को दूर करने के लिए इच्छित  समाधान की आपकी तलाश अनिल भसीन की 'रीसेट योर लाइफ' के साथ समाप्त हो जाती है। आपकी कोई भी स्थिति हो, इसके बावजूद, आप निश्चय ही सफलता का पुरस्कार प्राप्त करते हुए जीवन की महान ऊंचाइयों तक सरलता से पहुंच सकते हैं।
 

Next Story

जीवन के हर पड़ाव पर जरूरी है टर्म इन्श्योरेन्स। जानिए कैसे

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। टर्म इंश्योरेंस, लाइफ इंश्योरेंस का सबसे किफायती प्रकार है। यदि बीमित व्यक्ति की दुर्भाग्यवश मृत्यु हो जाती है, तो टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान में उल्लिखित नॉमिनी व्यक्ति को लाइफ इंश्योरेंस के रूप में वित्तीय सुरक्षा प्रदान की जाती है। इस वित्तीय सुरक्षा के बदले में, पॉलिसीधारक को लाइफ इंश्योरेंस प्रदाता कंपनी को प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है। प्रीमियम की गणना के लिए आप टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर का उपयोग कर सकते हैं। टर्म प्लान एक शुद्धलाइफ कवर है, इसलिए, यदि बीमित व्यक्ति पॉलिसी अवधि के समापन तक जीवित रहता है, तो उसे नियमित टर्म प्लान के मामले में कोई रिटर्न नहीं मिलेगा। 

आइये इस ऑर्टिकल में टर्म इंश्योरेंस क्यों जरुरी है, इस बारे में जानते हैं-

आपको टर्म इंश्योरेंस की आवश्यकता क्यों है?

चाहे आप जीवन के किसी भी पड़ाव पर हों, टर्म लाइफ इन्श्योरेन्स आपके काम जरूर आ सकता है। यदि आप एक युवा हैं, तो आप कम प्रीमियम दरों पर एक अधिक कवर का टर्म इन्श्योरेन्स ले सकते हैं। इस समय आपके ऊपर ज़िम्मेदारियाँ उतनी नहीं होती, पर उम्र के साथ इनमें बढ़ोतरी होती है। टर्म इन्श्योरेन्स की मदद से आप अपनी शादी के बाद अपने जीवन साथी को, माता-पिता को, तथा कुछ वर्षों बाद अपने बच्चों को  वित्तीय सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं। आगे चलकर जब आप अपना घर लेंगे, गाड़ी लेंगे, तथा कोई अन्य ऋण अपने सर लेंगे, तो उसे चुकाने का भार भी आप अपनों के सर से टाल सकते हैं, एक टर्म इन्श्योरेन्स प्लान की मदद से। अंत में, सेवानिवृति के उपरांत भी यदि कोई आप पर आर्थिक रूप से निर्भर हो, तो उनके लिए भी एक टर्म प्लान ले सकते हैं। 

ध्यान रखें की उम्र के साथ साथ प्रीमियम दरों में भी बढ़ोतरी होती है, तो जितनी जल्दी हो सके, टर्म इन्श्योरेन्स में निवेश जरूर करें। यहां कुछ सामान्य कारण बताए जा रहे हैं, जिससे यह पता चलता है कि टर्म इंश्योरेंस के क्या फायदे हैं:
●    टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्रियजनों की रक्षा करता है
●    टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉकेट फ्रेंडली है
●    टर्म लाइफ इंश्योरेंस आपके परिवार की ऋण के बोझ से बचाता है 
●    यह ऐड-ऑन राइडर्स के साथ आता है
●    यह आय कर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के मुताबिक टैक्स बचाने में मदद करता है 

अपने लिए उपयुक्त टर्म इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें

अपने लिए उपयुक्त टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान चुनने के लिए टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटरआपकी मदद कर सकता है। आपको अपनी ज़रूरतों के लिए सही टर्म इंश्योरेंस प्लान चुनने में जिन  मापदंडों को ध्यान में रखना होता है, वे निम्न हैं-

●    कवरेज की राशि: आप सुनिश्चित करें कि कवरेज की राशि आपके परिवार की दैनिक जरूरतों, उनके जीवन लक्ष्यों की लागत और आपके नाम पर किसी भी बकाया ऋण को कवर करने के लिए पर्याप्त है।

●    पॉलिसी टर्म: टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान में एक पॉलिसी अवधि होनी चाहिए जो आपकी कमाई के वर्षों, आपके सबसे लंबे जीवन लक्ष्य और आपके सबसे लंबे कर्ज को कवर करने के लिए पर्याप्त हो। 

●    कवरेज की लागत: यदि आप एक टर्म लाइफ इन्शुरन्स प्लान खरीदते हैं जो आपके बजट से बाहर है, तो आपको प्रीमियम को बनाए रखना मुश्किल हो सकता है। यह, बदले में, नीति को समाप्त करने का कारण बन सकता है। तब आप अपने टर्म प्लान द्वारा दिए गए सभी लाभों को खो देंगे। इसलिए एक टर्म प्लान चुनना महत्वपूर्ण है जिसे आप खरीद सकते हैं।

●    ऐड-ऑन राइडर्स का चयन करें: ऐड-ऑन राइडर्स अतिरिक्त वैकल्पिक कवर हैं जिन्हें आप अतिरिक्त प्रीमियम के लिए बेस कवर के साथ खरीद सकते हैं। ये राइडर्स विशिष्ट घटनाओं के लिए वित्तीय कवरेज प्रदान करते हैं। कुछ सामान्य राइडर्स में क्रिटिकल इलनेस राइडर, एक्सीडेंटल पर्मानेंट पार्शल/टोटल डिसेबिलिटी राइडर, प्रीमियम वेवर राइडर, आदि शामिल हैं। तय करें कि आपको इनमें से कोई चाहिए या नहीं और अपनी योजना खरीदते समय ही उन्हें खरीद लें।

●    क्लेम सेटलमेंट रेशीयो सही होना चाहिए: उपयुक्त टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान आपके नॉमिनी व्यक्तियों को विश्वसनीय सुरक्षा प्रदान करती है। यह सुनिश्चित करने के लिए आपको सही क्लेम सेटलमेंट रेशीयो वाली कंपनी से टर्म इंश्योरेंस कवर लेना चाहिए। प्रतिशत जितना अधिक होगा, आपके नॉमिनी के वास्तविक क्लेम का तुरंत सेटलमेंट होने की संभावना उतनी ही अधिक होगी।

तो इस प्रकार आप एक सही टर्म लाइफ इन्श्योरेन्स प्लान का चयन कर जीवन के किसी भी पड़ाव में अपने परिवार और प्रियजनों को वित्तीय सुरक्षा का तोहफा दे सकते हैं। कम से कम उम्र में खरीदने पर आपको सबसे अधिक लाभ प्राप्त होंगे, हालांकि आम तौर पर यह योजनाएँ जीवन के हर चरण में किफायती ही होती हैं। 
 

Next Story

पड़ोसी राज्य अपनाएंगे छत्तीसगढ़ का नक्सल उन्मूलन माडल

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ में पिछले चार वर्षों में नक्सली घटनाओं में कमी आई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार, नक्सलियों का जमावड़ा सुकमा, बीजापुर और दंतेवाड़ा जिले के कुछ इलाकों तक सिमट गया है। ओडिशा और तेलंगाना सीमा पर नक्सलियों को रोकने में फोर्स सफल हुई है।

एक दिन पहले ही पूर्वी क्षेत्रीय समन्वय समिति की बैठक में छत्तीसगढ़ माडल पर आगे बढ़ने की रणनीति पर विचार किया गया। छत्तीसगढ़ में फोर्स ने पहले धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में पुलिस कैंप खोले, फिर विकास के लिए अंदरूनी इलाकों में सड़क का निर्माण किया। अब कैंप में राशन दुकान, एटीएम सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। तेलंगाना, ओडिशा और झारखंड अब इसी माडल पर आगे बढ़ेंगे।

एंटी नक्सल आपरेशन के आला अधिकारियों ने बताया कि पड़ोसी राज्य भी अंदरूनी इलाकों में कैंप खोलकर विकास को पहुंचाने की तैयारी में हैं। प्रदेश में पिछले चार वर्षों में सबसे ज्यादा कैंप खोले गए। इससे नक्सली वारदातो में कमी आई है। इसके साथ ही ग्रामीण इलाकों में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से सड़क का निर्माण किया जा रहा है। मोबाइल टावर भी लगाए जा रहे हैं। इससे कनेक्टिविटी बेहतर हो रही है।

मोबाइल फोन गांव तक पहुंचने के बाद पुलिस के पास खुफिया सूचना आसानी से पहुंच रही है। इससे नक्सलियों के जमावड़े पर पूरी योजना बनाकर कार्रवाई की जा रही है। सरकार की योजनाओं के पहुंचने के कारण आदिवासियों में भरोसा जगा है, जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्र में नक्सलियों की पैठ कमजोर हुई है।