पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
2.3k
0
0

महिला सशक्तिकरण का असली उदाहरण हैं कंगना- अनुपम खेर

डिजिटल डेस्क, मुम्बई। बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत, फिल्मी सितारों से खफा हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि हाल ही में कंगना की फिल्म द क्वीन आफ झांसी की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गई थी, जिसमें बॉलीवुड सितारों के न पहुंचने से कंगना बहु​त नाराज थीं। उनका कहना ​था कि बॉलीवुड में उन्हें कोई पसंद नहीं करता। न ही उनकी फिल्मों को कोई रिस्पॉन्स देता है, ज​बकि उनकी परफॉरमेंस बेहतर होती है। उन्होंने कई फिल्मी सितारों पर आरोप लगाया कि उनकी फिल्म की ​स्क्रीनिंग पर जब वे मुझे बुलाते हैं तो मैं अपनी शूटिंग छोड़-छोड़ कर जाती हूं, लेकिन मेरी फिल्मों को न ही कोई सपोर्ट करता है और न ही प्रमोट। 

कंगना ने कहा कि 'मैं सिर्फ नेपोटिज्म के बारे में बात करती हूं इसलिए बॉलीवुड के कई लोगों को बुरा लगता है। मैं पहले सिर्फ इन्हीं मुद्दों पर बात करती थी, लेकिन अब मैं इनके पीछे पड़ जाऊंगी और इनकी वाट लगा दूंगी। सब मिलकर मेरे खिलाफ काम कर रहे हैं। उन्हें कोई फिल्मों में काम तक नहीं देता।' कंगना ने आमिर और आलिया भट्ट पर भी तंज कसा। 

अनुपम खेर ने हाल ही अपने ट्विटर अकाउंट पर सवाल जवाब का सेशन रखा था। इस दौरान उनके एक फॉलोअर ने कंगना के सपोर्ट के बारे में ट्वीट करने को कहा। यूजर ने अपने ट्वीट में कहा कि 'बॉलीवुड में कोई भी कंगना की फिल्म 'मणिकर्णका' को सपोर्ट नहीं कर रहा है। क्या आप उनके सपोर्ट में ट्वीट करेंगे?'  

इसके बाद अनुपन ने अपने फैन की इच्छा का पूरा सम्मान किया और कंगना को 'रॉकस्टार' व महिला सशक्तिकरण का असली उदाहरण बताया। अनुपम ने ट्वीट कर बताया कि 'कंगना रनौत एक रॉकस्टार हैं। वह बेहतरीन हैं। मैं उनकी बहादुरी और परफॉर्मेंस की तारीफ करता हूं। वह महिला सशक्तीकरण का असली उदाहरण भी हैं।' जाहिर है कि अनुपन खेर का यह ट्वीट देखकर कंगना को अच्छा लगा होगा। अनुपम के सपोर्ट ने कंगना के गुस्से पर मरहम का काम किया होगा।