पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
684
0
0

चुनावी फायदे के लिए सोनिया गांधी को बदनाम कर रही भाजपा - अशोक चव्हाण का दावा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अगस्ता वेस्ट लैंड घोटाला मामले में पलटवार करते हुए कांग्रेस ने कहा है कि भाजपा आगामी चुनावों में फायदा उठाने के लिए और राफेल मामले को दबाने के लिए सोनिया गांधी पर झूठे आरोप लगा रही है। महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने मुंबई में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि इस मामले में तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने ही कार्रवाई की थी। कंपनी को ब्लैकलिस्ट करते हुए लगभग दो गुनी रकम जुर्माने के रुप में वसूली गई थी। जबकि मोदी सरकार ने अगस्ता वेस्ट लैंड को ब्लैक लिस्ट से बाहर कर उसे मेक इन इंडिया का हिस्सा बनाया।

चव्हाण ने कहा कि राज्य में 17 हजार से ज्यादा किसान आत्महत्या कर चुके हैं, मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के आरोप, सूखे के हालात, भीमा कोरेगांव जैसे अहम मामलों में हम मुख्यमंत्री के बयान की अपेक्षा कर रहे थे, लेकिन उन्होंने अगस्ता वेस्ट लैंड के बारे में झूठे बयान और झूठी जानकारी के आधार पर कांग्रेस पार्टी को बदनाम करने की कोशिश की है। राष्ट्रीय स्तर पर भी एनडीए के मंत्रियों ने कांग्रेस नेतृत्व पर कीचड़ उछालने की कोशिश की है। चव्हाण ने सवाल किया कि सहारा बिर्ला डायरी पर मौजूदा सरकार के नेताओं की क्या भूमिका है। उन्होंने बताया कि साल 2010 में अगस्ता वेस्ट लैंड को टेंडर प्रक्रिया के जरिए ठेका दिया गया था। साल 2013 में जब इस पर सवाल उठे तब तत्कालीन सरकार ने ही सीबीआई जांच के आदेश दिए।

चव्हाण ने कहा कि तत्कालीन रक्षा मंत्री एके एंटनी ने 27 फरवरी 2013 को राज्यसभा में संयुक्त संसदीय समिति द्वारा मामले की जांच का प्रस्ताव रखा था जिसे भाजपा ने ठुकरा दिया था। इसके बावजूद यूपीए सरकार ने अगस्ता वेस्ट लैंड ने बैंक में जो 240 करोड़ रुपए डिपाडिट किया था उसे जब्त कर लिया। ठेका रद्द कर दिया। 1620 करोड़ रुपए जो दिए थे उसके बदले कंपनी से 2954 करोड़ रुपए वसूल किए। 886 करोड़ रुपए के कंपनी द्वारा दिए गए तीन हेलीकॉप्टर भी जब्त कर लिए गए साथ ही कंपनी को ब्लैकलिस्ट कर दिया गया। चव्हाण ने भाजपा से मामले में छह सवाल किए हैं। उन्होंने कहा कि मामला अदालत के विचाराधीन होने के बावजूद अगस्ता वेस्टलैंड की फिनामिनका कंपनी को ब्लैकलिस्ट से क्यों बाहर किया गया।

कंपनी को मेक इन इंडिया में क्यों शामिल किया गया। फारेन इनवेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड के जरिए अगस्ता वेस्ट लैंड और टाटा के बीच सहयोग से इंडियन रोटोक्राफ्ट कंपनी के जरिए 119 सैनिक हेलीकॉप्टर बनाने की इजाजत क्यों दी। कंपनी को नौसेना के लिए 100 हेलीकॉप्टर सप्लाई मामले में बोली लगाने की इजाजत क्यों दी गई। जिन मामलों में सरकार हारी उसमें फिर अपील क्यों नहीं की। क्या क्रिश्चन मिशेल का इस्तेमाल रॉफेल जैसे घोटालों को दबाने के लिए किया जा रहा है।