पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
4.6k
0
0

बजट 2019 : सर्विस क्लास और पेंशनर्स को फायदा, कामगारों को मिलेगी पेंशन

Highlights

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली की जगह बजट पेश करने आए कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने किसी को भी निराश नहीं किया। सरकार के अंतरिम बजट से सभी वर्गों के हिस्से में कुछ ना कुछ सौगातें आई, लेकिन इस बजट ने सबसे ज्यादा खुश वेतनभोगी, पेंशनर्स, व्यापारियों को किया। पीयूष गोयल ने टैक्स छूट की सीमा 2.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 5 लाख रुपए कर दी है। यानि अब 5 लाख की सैलरी तक कोई कर नहीं देना होगा। इसके साथ ही बजट ने सर्विस क्लास लोगों को बढ़ी राहत दी है।

ग्रेच्युटी पेमेंट सीमा में इजाफा
इस अंतरिम बजट ने सर्विस क्लास को कई तरह के फायदे पहुंचाए हैं। ग्रेच्युटी योगदान की सीमा को 6 हजार रुपए बढ़ा दिया है, जिसके बाद यह आंकड़ा 15 हजार से बढ़कर 21 हजार रुपए हो गया है। इसके साथ ही ग्रेच्युटी पेमेंट 10 लाख रुपए से बढ़ाकर 30 लाख रुपए कर दिया है। ग्रेच्युटी के अलावा सरकार ने एनपीएस (नेशनल पेमेंट सिस्टम) में भी योगदान की राशि में भी 14 फीसदी का इजाफा किया है। बजट के मुताबिक ESI में 25 हजार रुपए की कमाई करने वालो को भी कवर मिलेगा।

पेंशन क्षेत्र में विस्तार
सरकार ने अंतरिम बजट में पेंशनर्स का भी खासा ध्यान रखा है। बजट के अनुसार अब घरेलु काम करने वालों को भी पेंशन के दायरे में लाया जाएगा। घरेलू कर्मचारियों के लिए पेंशन योजना शुरु होगी।

श्रम योगी मानधन योजना

कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का ऐलान किया। प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत गरीब कामगारों को 60 साल की उम्र के बाद 3000 रुपए की पेंशन दी जाएगी। इस योजना का फायदा उन कामगारों को होगा जिनकी मासिक आय 15 रुपए से कम है। पीयूष गोयल के अनुसार इस योजना से करीब 10 करोड़ कामगारों को लाभ मिलने का अनुमान है।