पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
2.6k
0
0

Hockey world cup 2018: पहली बार फाइनल में पहुंचा बेल्जियम, नीदरलैंड से होगा खिताबी मुकाबला

Highlights

डिजिटल डेस्क, भुवनेश्वर। हॉकी वर्ल्डकप में ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट बेल्जियम ने सेमीफाइनल मुकाबले में इंग्लैंड को हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। बेल्जियम ने पहली बार हॉकी वर्ल्डकप के फाइनल में प्रवेश किया है। सेमीफाइनल मुकाबले में बेल्जियम ने इंग्लैंड के खिलाफ एकतरफा 6-0 से जीत दर्ज की और और फाइनल में जगह बनाई।

यह वर्ल्ड कप में बेल्जियम का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले वर्ल्डकप 2014 में बेल्जियम पांचवें स्थान पर रहा था। सेमीफाइनल मैच में बेल्जियम के लिए एलक्जेंडर हैंड्रिक्स ने सबसे ज्यादा 2 गोल दागे। वहीं टॉम बून, साइमन गॉगनार्ड, सैड्रिक चार्लियर और सैबेस्टियन डॉकियर ने 1-1 गोल किया। अब बेल्जियम का फाइनल में मुकाबला नीदरलैंड से होगा। दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में नीदरलैंड ने ऑस्ट्रेलिया को शूटआउट में 4-3 से हराया। 

मैच के दौरान बेल्जियम टीम के खिलाड़ी अपने हाथ पर काली पट्टी बांद कर मैदान में उतरे। उन्होंने अपने टीम के खिलाड़ी गॉगनार्ड के पिता को श्रद्धांजलि दी। गॉगनार्ड के पिता का निधन मैच से पहले हो गया था, लेकिन गॉगनार्ड ने टीम के लिए खेलने का फैसला किया और एक गोल भी दागा। 

इंग्लैंड की टीम ने मैच के शुरुआत से आक्रामक खेल खेलने का प्रयास किया लेकिन बेल्जियम ने बेहतरीन डिफेंस किया और जल्द ही बढ़त भी बना ली। पहले क्वार्टर के 8वें मिनट में स्टार फॉरवर्ड खिलाड़ी बून ने बेल्जियम के लिए पहला गोल किया। इसके बाद दूसरे क्वार्टर की शुरुआत बेल्जियम के लिए शानदार रही और 4 मिनट बाद ही गोउनार्ड ने पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करके अपनी टीम की बढ़त को दोगुना कर दिया। बेल्जियम ने तीसरे और चौथे क्वार्टर में मैच को एकतरफा कर दिया।

2016 रियो ओलम्पिक के फाइनल में पहुंचने वाली बेल्जियम ने बेहतरीन पासिंग गेम खेला। 42वें मिनट में चार्लियर ने तीसरा गोल दागा। हेंड्रिक्स ने पेनाल्टी कॉर्नर पर दमदार खेल दिखाया। उन्होंने 45वें मिनट में मैच का अपना पहला गोल किया। चौथे और अंतिम क्वार्टर में इंग्लैंड की टीम ने अपने हथियार डाल दिए। हेंड्रिक्स ने पेनाल्टी कॉर्नर पर 50वें मिनट में मैच का अपना दूसरा गाले किया और स्कोर 5-0 कर दिया। मैच समाप्त होने से पहले 53वें मिनट में डोकिएर ने अंतिम गोल दागा और स्कोर 6-0 कर अपनी टीम को जीत दिलाई।