पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
1.8k
0
0

गुर्जर आंदोलन का असर : 14 ट्रेनें रद्द, सीएम गहलोत ने की पटरियों से हटने की अपील

Highlights

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लंबे समय से जारी गुर्जर आरक्षण की लड़ाई एक बार फिर अपने विध्वंसक रूप में आ गई है। गुर्जर समुदाय के नेता किरौड़ी सिंह बैंसला अपने समर्थकों के साथ रेल पटरियों पर उतर आए हैं। बैंसला ने अपनी मांगों को लेकर राजस्थान के सवाईमाधोपुर जिले में ट्रेन यातायात बाधित कर दिया है। विरोध को देखते हुए प्रदेश के 8 जिलों में सशस्त्र बल की 17 कंपनियों को सुरक्षा के मद्देनजर तैनात किया गया है। विरोध प्रदर्शन के कारण रेलवे को हो रहे नुकसान को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने समुदाय से पटरियों से हटने की अपील की है।

गुर्जर समाज के विरोध प्रदर्शन का यह दूसरा दिन है। समुदाय के लोगों ने पटरियों पर जमकर हंगामा किया। बताया जा रहा है कि मांगों को लेकर चल रहे प्रदर्शन के कारण करीब 14 ट्रेनों को रद्द और 20 ट्रेनों का मार्ग परिवर्तित करना पड़ा है। बता दें कि गुर्जर समुदाय पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहा है।


समुदाय के प्रमुख नेता किरौड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री और प्रदेश के मुख्यमंत्री को हमारी मांगों पर ध्यान देना चाहिए। हमको आरक्षण देना कोई बहुत बड़ा काम नहीं है। बैंसला ने कहा कि सरकार को अपने वादे पर अडिग रहना चाहिए और हमें आरक्षण देना चाहिए। बैंसला के अनुसार पूरा आंदोलन शांतिपूर्वक किया जाएगा।

राज्य सरकार ने किया समर्थन

बीते बुधवार को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मांग का समर्थन किया था। सचिन ने कहा था कि गुर्जर समुदाय के आरक्षण को लेकर जो भी दिक्कतें आ रहीं हैं, केन्द्र उसका समाधान करे। राजस्थान के मुख्यमंत्री ने सभी आंदोलनकारियों से अपील की है कि वे रेलवे को नुकसान ना पहुंचाएं, उनकी जो भी मांगे हैं संविधान में संशोधन के बाद मान ली जाएंगी, इसके लिए उन्हें प्रधानमंत्री को ज्ञापन देना चाहिए। जानकारी के अनुसार मामले के निपटारे के लिए सरकार ने मंत्री और कुछ अधिकारियों की समिति बनाई है।