पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
2.6k
3
0

हॉकी के नियमों में बदलाव, गोलकीपर को भी मैदान में उतार सकेगी टीम

Highlights

डिजिटल डेस्क, लुसाने (स्विट्जरलैंड)। इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन (एफआईएच) के एक्जीक्यूटिव बोर्ड ने एक्जीक्यूटिव कमेटी द्वारा प्रस्तावित खेल के नियमों के बदलावों को मंजूरी दे दी है। इस बात की जानकारी एफआईएच ने मंगलवार को एक बयान जारी कर दी। अब हॉकी के नियमों में जो भी बदलाव हुए हैं वे एक जनवरी 2019 से लागू होंगे। एफआईएच के नए नियमों के अंतर्गत जहां भी हॉकी मैच खेले जाएंगे, सभी चार क्वार्टर प्रारूप में खेले जाएंगे।

एफआईएच ने बयान जारी कर यह जानकारी दी है की, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सभी मैच चार क्वार्टर के होते हैं, इस बात को महसूस किया गया है कि खेल में समानता जरूरी है। इसी कारण से सभी स्तर पर हॉकी के मैच अब चार क्वार्टर के प्रारुप में खेले जाएंगे। अंतर्राष्ट्रीय मैच में पेनाल्टी कॉर्नर देने से पेनाल्टी कॉर्नर लेने तक के बीच में घड़ी को रोक दिया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय मैचों के अलावा सभी स्तर पर हॉकी के मैचों में यह नियम लागू होगा।

नए नियमों के मुताबिक जरूरत पड़ने पर अब गोलकीपर को हटाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। कई बार टीम अतिरिक्त खिलाड़ी मैदान पर उतारने के लिए गोलकीपर को हटा देती थी। लेकिन अब उनके पास एक अन्य विकल्प होगा कि वह गोलकीपर को ही कुछ तय गीयरों के साथ मैदान पर उतार सकती हैं। बयान में कहा गया है, "टीमों के पास अब दो विकल्प होंगे। या तो वह गोलकीपर के साथ ही खेल सकती हैं जो कम से कम हेलमेट, लेग गार्ड और किकर्स के साथ खेले और गोलकीपिंग के दौरान हाथ में पहने जाने वाले गियर के साथ खेले या फील्ड प्लेयर्स के साथ उतरे। इन दोनों में किसी तरह का बदलाव सब्सिट्यिूट माना जाएगा।

फ्री हिट के नियमों में भी बदलाव किए गए हैं। अब फ्री हिट लेने वाले खिलाड़ी के पांच मीटर के आस-पास तक कोई खिलाड़ी मौजूद नहीं होगा। यह नियम तब भी लागू होगा जब खिलाड़ी सर्किल में होगा। फ्री हिट के संबंध में एक और नया नियम होगा। इस नियम के मुताबिक, अब डिफेंडर डिफेंसिव सर्किल या बैक लाइन से 15 मीटर में कहीं से भी फ्री किक ले सकेगा।

इसके अलावा एफआईएच ने पेनाल्टी कॉर्नर संबंधी अपने 13.6 नियम को खत्म कर दिया है। इस नियम के मुताबिक हाफ टाइम या फुल टाइम होने के करीब पेनाल्टी कॉर्नर मिल जाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। यह सभी नियम एक जनवरी 2019 से सभी स्तर के हॉकी मैचों में लागू होंगे।