पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
4k
0
0

चाय के शौकीनों में होती है ज्यादा क्रिएटिविटी, स्टडी में हुआ खुलासा

डिजिटल डेस्क। सर्दी का मौसम हो और चाय की बात न हो भला ऐसा कैसे हो सकता है। सुबह उठते ही सबसे पहले चाय पीने का चलन भारत में नहीं कई देशों में सैकड़ों साल पुराना है। चाय तो एक ऐसा पेय पदार्थ है जो कि किसी भी समय पी सकते हैं, फिर चाहे ब्रेक टाइम हो, या गॉसिप करनी हो और अब तो चाय पीने की एक और वजह मिल गई है। तो आईए आज हम भी चाय पर चर्चा करते हैं। जहां चाय को लेकर एक अच्छी खबर आई है। जी हां पेकिंग यूनिवर्सिटी का दावा है कि चाय पीने से लोगों की ध्यान केंद्रित करने की क्षमता बढ़ती है। 

चाय पीने से फोकस कैसे बढ़ सकता है?
ये तो हम सभी जानते हैं कि चाय में कैफीन और थियनाइन मौजूद होता है जो अलर्टनेस बढ़ाने का काम करते हैं। एक स्टडी के मुताबिक, एक कप चाय पीने के बाद कोई भी इंसान दिमाग की चुस्ती को महसूस कर सकता है। मनौवेज्ञानिकों की एक टीम ने 50 स्टूडेंट्स पर एक स्टडी की, जिनकी औसतन उम्र 23 साल की थी।आधे छात्रों को पीने के लिए पानी दिया गया और आधे छात्रों को दी गई ब्लैक टी। फूड क्वॉलिटी एंड प्रिफरेंस जर्नल में प्रकाशित स्टडी में कहा गया कि दिन में चाय पीने से क्रिएटिविटी का स्तर बढ़ जाता है। स्टडी के मुताबिक इस अध्ययन से यह समझने में मदद मिल रही है कि चाय जैसी ड्रिंक का लोगों की स्टडी के मुताबिक, संज्ञानात्मक क्षमता पर कैसा प्रभाव पड़ता है। हालांकि, स्टडी में ये भी कहा गया कि किसी भी चीज की अधिकता नुकसानदायक हो सकती है और यही बात चाय पर भी लागू होती है।