पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
4.2k
4
0

हिटमैन रोहित ने तोड़ा कोहली का रिकॉर्ड, सबसे ज्यादा छक्के मारने वाले तीसरे खिलाड़ी बने

Highlights

डिजिटल डेस्क, ऑकलैंड। हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित शर्मा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टी-20 में एक साथ चार रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। रोहित शर्मा टी-20 में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वालों में तीसरे नम्बर पर पहुंच गए हैं। इसके साथ ही वह टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। बता दें कि भारत ने दूसरे टी-20 मैच में न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हरा दिया और तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर कर ली।

रोहित ने अब तक खेले गए 92 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में 32.69 की औसत से 2288 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 138.42 का रहा है। उनका सर्वाधिक स्कोर 118 का रहा है। इस दौरान उन्होंने 4 शतक और 16 अर्धशतक बनाए हैं। 

इसके अलावा रोहित टी-20 क्रिकेट में 100 या इससे अधिक छक्के लगाने वालों में तीसरे नम्बर पर पहुंच गए हैं। उनके नाम अब 102 छक्के हैं। उनसे आगे केवल वेस्टइंडीज के क्रिस गेल और न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल हैं। दोनों के नाम 103-103 छक्के हैं। रोहित शर्मा अब इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के लगाने के मामले में पांचवें स्थान पर हैं। उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 349 छक्के लगाए हैं। रोहित से आगे केवल शाहिद अफरीदी और क्रिस गेल हैं। दोनों के नाम 476 छक्के हैं। इसके अलावा ब्रेंडन मैकुलम (398) और सनथ जयसूर्या (352) ने भी रोहित से ज्यादा छक्के लगाए हैं।

रोहित ने भारतीय कप्तान विराट कोहली द्वारा बनाया गया एक रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। विराट ने अब तक 19 बार 50 या इससे अधिक स्कोर किया है। वहीं रोहित ने 16 अर्धशतक और 4 शतक लगाए हैं। इस हिसाब से वह कुल 20 बार 50 या इससे ज्यादा स्कोर करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं।

हिटमैन रोहित शर्मा अब तक 14 टी-20 मैचों में भारत की कप्तानी की है। इसमें से उन्होंने 12 में भारतीय टीम को जीत दिलाई है। वहीं दो में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। रोहित ने टी-20 में कप्तानी करते हुए सबसे ज्यादा जीत के विराट के रिकॉर्ड की भी बराबरी की है। विराट ने अब तक 20 टी-20 मैचों में भारत की कप्तानी की है। इसमें से उन्होंने 13 मैचों में जीत दर्ज की है, वहीं 7 मैचों में हार का मुंह देखना पड़ा है। जबकि 1 मैच बेनतीजा रहा है।