पुलवामा अटैक देश विदेश कुंभ 2019 मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
5k
0
0

टाटा मोटर्स के शेयर में 26 सालों की सबसे बड़ी गिरावट, निवेशकों के डूबे 9142 करोड़

Highlights

डिजिटल डेस्क, मुंबई। टाटा मोटर्स के शेयर में शुक्रवार को 26 सालों की सबसे बड़ी गिरावट देखी गई। दिसंबर क्वाटर के बेहद खराब नतीजों के बाद टाटा मोटर्स का शेयर इंट्राडे में 29.45% तक फिसल गया। हालांकि शाम तक शेयर ने थोड़ी रिकवरी की और 17.88% की गिरावट के साथ बंद हुआ। कंपनी को यह घाटा लग्जरी कार यूनिट जगुआर लैंड रोवर यानी JLR को होने वाले नुकसान की वजह से हुआ है।

इंट्राडे बेसिस पर टाटा मोटर्स के शेयर में NSE पर 29.45% तक की गिरावट देखी गई। स्टॉक ने 129 रुपए के निचले स्तर को छुआ। यह स्टॉक का 52 हफ्तों का लो है। वहीं BSE पर यह स्टॉक में 22.41% तक गिरा और 141.90 रुपए के निचले स्तर को छुआ। 2 फरवरी 1993 के बाद इस स्टॉत में यह सबसे बड़ी गिरावट है। 1993 में टाटा मोटर्स के शेयर में 40.50% की गिरावट देखी गई थी। दिसंबर क्वाटर के घाटे के बाद ब्रोकरेज हाउसेज ने टाटा मोटर्स के स्टॉक को डाउनग्रेड कर दिया है और टार्गेट प्राइज भी घटा दिया है।

टाटा मोटर्स के स्टॉक में आई इस गिरावट के बाद कंपनी का मार्केट कैप 9142 करोड़ से ज्यादा घट गया है। गुरूवार को टाटा मोटर्स का स्टॉक BSE पर 182.90 रुपये के भाव पर बंद हुआ था और तब कंपनी का मार्केट कैप 52,827 करोड़ रुपये था। शुक्रवार को कंपनी का शेयर 17 फीसदी से ज्यादा टूटकर 151.66 रुपये के भाव पर बंद हुआ और कंपनी का मार्केट कैप घटकर 43,685 करोड़ रह गया। यानी एक झटके में निवेशकों की दौलत 9142 करोड़ रुपये घट गई।

दिसंबर क्वाटर में टाटा मोटर्स को  26,992.54 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। इसकी ब्रिटिश यूनिट जगुआर लैंड रोवर (JLR) के 27,838 करोड़ रुपये के एक बार के इंपेयरमेंट चार्ज, चीन में बिक्री कम होने और ब्रेग्जिट से जुड़ी मुश्किलों के चलते टाटा मोटर्स को इतना बड़ा घाटा हुआ है। टाटा मोटर्स को लगातार तीन तिमाहियों से घाटा हो रहा है। साल भर पहले की दिसंबर तिमाही में कंपनी ने 1,214.60 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था।