जनादेश 2019 देश विदेश मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स IPL धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
9.3k
0
2

40 जवानों की जान लेने वाले आतंकी के पिता का शर्मनाक बयान

Highlights

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। पुलवामा में हुए आतंकी हमले से सारा देश गमगीन है। सभी पाकिस्तान पर कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। वहीं इस घटना को अंजाम देने वाला आतंकवादी आदिल अहमद के पिता ने शर्मनाक बयान दिया है। उन्होंने कहा, 'वह भी कभी इस दर्द से गुजर रहे थे, जैसे आज जवानों के परिजन गुजर रहे हैं।' आदिल के पिता गुलाम हसन डार ने कहा कि वह तीन साल पहले से इस दर्द से गुजर रहे है, जैसे आज जवानों के परिजनों पर गुजर रही है। 

सैनिकों ने मारा थप्पड़
आदिल के पिता के मुताबिक 2016 में आदिल को स्कूल से वापस लौटते वक्त उसके दोस्त के साथ सुरक्षाबलों ने रोक लिया और दोनों को थप्पड़ मारे थे। तब से ही आदिल के मन में सुरक्षाबलों को लिए काफी गुस्सा था। इस घटना के बाद उसने आतंकी संगठन में शामिल होने का मन बन लिया था। 

नहीं पता था हमले के बारे में
आदिल के माता-पिता को सीआरपीएफ के काफिले पर होने वाले हमले के बारे में नहीं पता था। गुलाम हसन डार ने कहा, 'पिछले साल 19 मार्च को आदिल घर से निकला था। उसके बाद वह कभी घर नहीं लौटा।'

आदिल का वीडियो भी आया सामने
जैश-ए-मोहम्मद ने आदिल का एक वीडियो भी जारी किया था। जिसमें वह मिलिट्री की ड्रेस पहने और हाथ में ऑटोमैटिक राइफल के साथ दिखाई दिया। वीडियो में वह अपने प्लान को अंजाम देने के बारे में बता रहा है। वीडियो में उसने कहा कि जब तक मेरा वीडियो मिलेगा वह जन्नत पहुंच चुका होगा।

गाजी ने दी थी आदिल को ट्रेनिंग
जैश-ए-मोहम्मद के चीफ ट्रेनर अब्दुल रशीद गाजी ने आदिल अहमद को आत्मघाती हमले की ट्रेनिंग दी थी। गाजी जैश सरगना अजहर मसूद के करीबियों में गिना जाता है। अब्दुल रशीद गाजी बीते साल अक्टूबर के अंत में कश्मीर आया था। जहां उसके दो साथी मुहम्मद उमर व मुहम्मद इस्माईल पहले से मौजूद थे। इन्हें अजहर मसूद ने कश्मीर में स्थानीय आंतकियों को ट्रेनिंग देने का जिम्मा सौंपा था। गाजी ने उमर व इस्माईल की मदद से आदिल अहमद को हमले के लिए चुना था। 


 

[2] User Comments

Rpppp
February 18th, 2019 08:37 IST

Iss sale ke baap ko bhi uthao, pattharbazi me samjhane ki jagah support Kar raha,

Naresh kumar
February 17th, 2019 19:34 IST

अब हिंदुस्तान को कश्मीर में इंडियन फ़ोर्स पर कभी भी भविस्य में पत्थरवाजी करने वालों को shoot and sight के आर्डर पास करने चाहिए की जब कबि भी कश्मीर में कोई भी पुलिस या crpf force या इंडियन आर्मी हो जिसपर भी पत्थर बाजी करे उनको गिरफ्तार करके तोप से उड़ा दिया जाए ये संदेश होगा हर पाकिस्तानी को की अब हिंदुस्तान के खिलाफ कोई भी छोटी सी भी हरकत की तो उसकी सजा सिर्फ मौत है....अलगाववादीयों को भी बिना किसी चेतावनी के गिरफ्तार किया जाए जो भी दोसीपाया जाए मार गिराया जाए ....जय हिंद जय भारत