जनादेश 2019 देश विदेश मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
196
0
0

‘गुरुप्रेम शताब्दी महोत्सव’ में आएंगे लाखों लोग, मुंबई में होगा जैन धर्म का सबसे बड़ा समारोह 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। जानेमाने जैन संत प्रेम सुरीश्वर महाराज के शताब्दी महोत्सव के अवसर पर मुंबई में जैन धर्म का अब तक का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन हो रहा है। इस आयोजन में लाखों लोगों के भाग लेने की उम्मीद है। आगामी 20 से 24 मार्च तक चलने वाले इस आयोजन में पहली बार कुल 99 करोड़ 99 लाख 99 हजार 999 सामूहिक नवकार मंत्र के जाप भी होंगे, साथ ही 1008 जैन संस्थाओं द्वारा सामूहिक स्नात्र पूजा होगी।

महानगर के पश्चिमी उपनगर गोरेगांव स्थित हाइपर सिटी मॉल के सामने जैननगर में होने वाले इस पांच दिवसीय महोत्सव के लिए 8 विशाल डोम बनाए जा रहे हैं, साथ ही जैन ट्रेड फेयर का भी आयोजन होगा। विशाल आयोजन स्थल पर भव्य जैन नगरी का निर्माण किया जा रहा है। जैन धर्म के कुल 21 आचार्य भगवंत, 200 से ज्यादा साधु साध्वीगण एवं जैन समाज की विभिन्न संस्थाओं के ट्रस्टी का उदघाटन 20 मार्च को अदभुत रथयात्रा एवं वरघोड़ा से होगा। दूसरे दिन 21 मार्च को आचार्य प्रेम सुरीश्वर महाराज के 100वां जन्मदिवस मनाया जाएगा, जिसमें देश भर से आए संतों और महंतों की उपस्थिति होगी।

मुंबई में जितनी भी जैन पाठशालाएं हैं, उनमें धार्मिक शिक्षा ग्रहण करने वाले सभी छात्रों का धार्मिक सम्मेलन 23 मार्च को होगा। उसके अगले दिन मुंबई के कुल 1008 जैन संघों द्वारा सामूहिक स्नात्र पूजा का आयोजन रखा गया है। विश्वशांति के लिए 99 करोड़ 99 लाख 99 हजार 999 सामूहिक नवकार महामंत्र के जाप का आयोजन सुबह 9 बजे से शुरू होगा।

इस आयोजन में जो विभिन्न पंडाल बन रहे हैं, उनमें जैन धर्म के इतिहास  भूगोल, तत्वज्ञान, आहार शैली, तीर्थ महिमा पर ऑडिओ विजुअल माध्यम से जानकारी दी जाएगी। प्रेमगुरु शताब्दी समारोह के मुख्य लाभार्थी विसीनदास होलाराम लखी परिवार ने सभी जैन संघों से इस आयोजन में सहभागी होने की अपील की है।