जनादेश 2019 देश विदेश मुख्य शहर राज्य राशिफल मनोरंजन बिज़नेस Gadgets ऑटोमोबाइल लाइफस्टाइल स्पोर्ट्स धर्म अजब गजब वीडियो फोटोज रेसिपी ई-पेपर
4.7k
0
0

22 मार्च से शुक्र गृह का कुंभ राशि में गोचर, जानें आपके लिए कितना शुभ 

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भोग और विलासिता का कारक शुक्र ग्रह तुला और वृषभ राशि का स्वामी है। शुक्र को पति-पत्नी, प्रेम संबंध, ऐश्वर्य, आनंद आदि का भी कारक ग्रह माना गया है। कुंडली में शुक्र का प्रभाव शुभ होने से भौतिक सुख-सुविधाओं का लाभ मिलता है व वैवाहिक सुख प्राप्त होता है। 22 मार्च 2019, दिन शुक्रवार को शुक्र ग्रह प्रातःकाल 4 बजकर 48 मिनट पर कुंभ राशि में गोचर करने वाला है। जो कि 16 अप्रैल 2019 की प्रातः 2 बजकर 16 मिनिट तक रहेगा। आइए जानते हैं, शुक्र ग्रह का यह गोचर आपकी राशि के लिए यह गोचर कितना शुभ और कितना अशुभ..

मेष राशि
यह गोचर आपके लिए शुभ फलदायी रहेगा। प्रतिष्ठित लोगों के साथ पहचान से सरकारी काम पूरे होंगे। सरकार की तरफ से यश, मान, प्रतिष्ठा मिलेगी तथा लाभदायी कार्य पूरे कर सकेंगे। पैसे की उधारी आवक और प्रवास के योग भी बन रहे हैं। इच्छित काम पूरा नहीं होगा और बेकार की दौड़ धूप रहेगी।

संतान के लिए खर्च अथवा अध्ययन संबंधी तकलीफ या रुकावट रहेगी। जो जातक स्नायु, कंधे, रक्त संबंधित बीमारी, बवासीर आदि से पीड़ित हैं, उन्हें पीड़ा हो सकती है। प्रेम संबंधों में फिलहाल आप दूसरों के बहकावे में आने की जगह परस्पर वफादारी और भरोसे पर ध्यान दें, जो संबंधों को मजबूत बनाएगा।

वृषभ राशि
शुक्र का यह गोचर निश्चित रूप से कार्यक्षेत्र और व्यापार में किसी बड़े फेरबदल का संकेत दे रहा है। वर्तमान समय में की गई आपकी मेहनत निश्चित रूप से रंग लाएगी। इस समय जीवन साथी की सहायता से आपको फायदा मिल सकता है। बाद में भी उनके सहयोग और प्रोत्साहन के कारण आपकी चिंता-उपाधि कम होगी। थोड़े आनंद और प्रसन्नता के साथ आप हर काम पूरा कर सकेंगे। जीवन साथी के साथ व्यवहार में संयम रखें क्योंकि कोई भ्रम के कारण आपके बीच मदभेद अथवा संबंधों में तनाव की संभावना दिखाई दे रही है।

मिथुन राशि
शुक्र का कुंभ राशि में प्रवेश आपके लिए शुभ फलदायी रहेगा। इस समय आपका मन प्रफुल्लित रहेगा, परंतु आपका कार्य अधिक परिश्रम या कष्ट के बाद पूर्ण होगा। परिश्रम अधिक करेंगे किन्तु फल कम मिलेगा। आपके पिता को स्वास्थ्य की हानि हो सकती है और आपकी सार्वजनिक प्रतिष्ठा को ठेस न पहुंचे, इसका भी विशेष ध्यान रखें। इस समय अनावश्यक विघ्नों के साथ आपके सभी कार्य पूर्ण होंगे। परिजन या प्रिय व्यक्ति के साथ प्रवास पर जाने का योग बन रहा है। इस समय का सदुपयोग करें।

कर्क राशि
इस समय में आपको अप्रत्याशित आर्थिक लाभ होगा और उधार वसूली, लोन अथवा गैर परंपरागत आमदनी के कार्य भी होंगे। जीवन साथी या प्रियतम के साथ घूमने-फिरने का योग बनेगा। लेकिन स्वास्थ्य की चिंता या दुर्घटना का योग बनेगा। आपके के काम पर भी विघ्न और मुसीबत आ सकती है। किन्तु भाग्योदय के नए अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। नई योजना या कोई नया कार्य होने की भी संभावना है।

सिंह राशि
शुक्र के कुम्भ राशि में गोचर के कारण धन लाभ और आनंद प्राप्त होगा। जीवन साथी के साथ आप अनुकूल रहने का प्रयत्न करेंगे परंतु व्यर्थ के मतभेद बढ़ेगें। पिछले थोड़े समय से ससुराल पक्ष के लोगों के साथ जो विवाद था वह समाप्त हो सकता है। वसीयत के काम में भी क्लेश और उलझन कम होगी। विदेश से कोई सुखद समाचार प्राप्त होगा। पत्नी की और से लाभ की अपेक्षा रख सकते हैं अथवा उनके नाम से किया गया निवेश आपको लाभ कराएगा। इस समय में भागीदारी का कोई निर्णय अकेले न लें तथा संभव हो वहां तक नए अनुबंध से बचें।

कन्या राशि
नौकरी के मामले में शुक्र का गोचर आपके लिए शुभ रहेगा। लेकिन स्वास्थ्य की चिंता और शत्रुओं की पीड़ा आपके लिए रुकावट बन सकती है। आपको आर्थिक लाभ होगा। कार्य हेतु विदेश जाने का योग बन सकता है। जीवन साथी के साथ संबंध में परेशानी आ सकती है। जो लोग विवाह के लिए योग्य साथी की खोज में हैं, उनको भी बाधा आ सकती है। इस समय आप किसी दूसरे पर आंख मूंदकर विश्वास नहीं करें क्योंकि विश्वासघात की संभावना अधिक है। व्यापार में भागीदार हो तो उनके साथ भी मतभेद अथवा उसके साथ गलतफहमी पैदा होगी।

तुला राशि
आपके लिए शुक्र का कुम्भ राशि में गोचर शुभ फलदायी रहेगा। परंतु प्रेम के विषय में असंतोष भी अधिक देगा। जमीन,मकान,और वाहन संबंधी काम होंगे। माता के साथ संबंध शुभ रहेंगे। हृदय में आनंद और मानसिक शांति रहेगी। वर्तमान समय को धीरज से निकालें। जो लोग सरकारी नौकरी अथवा व्यापार से जुड़े हैं उन्हें इस समय कोई विशेष लाभ नहीं मिल सकेगा। इस समय में आमदनी और कोई पैसे की उधार-वसूली बाकी हो तो वह प्राप्त हो सकती है।

वृश्चिक राशि
शुक्र का कुम्भ राशि में गोचर होने से आपको हृदय में चिंता अशांति के साथ सुख और उत्साह जैसी मिश्र भावना का अनुभव होगा। इस समय विद्यार्थी वर्ग को भी अध्ययन के प्रति अरुचि होगी। वर्तमान समय में शेयर बाजार में निवेश करने से पैसा फंसने या हानि होने की संभावना अधिक रहेगी। माता के स्वास्थ्य के विषय में अथवा परिवार के साथ कोई आंतरिक प्रश्न उत्पन्न होने से आप दुखी रह सकते हैं। अप्रत्याशित खर्च आपको आर्थिक तंगी में डाल सकता है। अधिकारी का सहयोग कम मिलेगा फिर भी आप अपनी कुशलता से प्रगति का मार्ग प्रशस्त कर सकेंगे। शत्रु या प्रतिस्पर्धी आप के सामने सिर नहीं उठा सकते हैं।

धनु राशि
शुक्र का कुम्भ में गोचर आपके लिए सामान्य फलदायी रहेगा। किन्तु भाग्य साथ देगा। भाई-बहन में संबंध सुधार होगा। परंतु, नौकरी के विषय में अचानक नौकरी बदलने या उसमें कोई न कोई कष्ट होने की संभावना है। नौकरी में अचानक कोई परिवर्तन हो सकता है तथा किसी भी संबंध में अचानक नकारात्मक परिवर्तन आ सकता है। वैवाहिक जीवन में भी जीवनसाथी के साथ संबंधों में थोड़ी कड़वाहट आ सकती है। वर्तमान समय में जो लोग विदेशी कंपनी में नौकरी कर रहे हैं, उनके लिए शुभ समय कहा जा सकता है। विद्यार्थियों को अध्ययन के लिए विदेश जाने की संभावना है।

मकर राशि
शुक्र का गोचर आपके खर्च को बड़ा सकता है और आमदनी कम कर सकता है। इस कारण आपकी मानसिक चिंता बढ़ सकती है। हाथ पैर में छोटी-बड़ी चोट लगने की संभावना हो सकती है। किसी धार्मिक स्थल की यात्रा पर जाने का योग बन सकता है। रक्त विकार संबंधित रोग होने की संभावना रहेगी। चर्म रोग भी हो सकता है। खान-पान में विशेष सावधानी रखें अन्यथा बीमार हो सकतें हैं। भाग्य का साथ मध्यम रहेगा। मानसिक दृढ़ता के साथ काम करना सर्वाधिक महत्वपूर्ण है।

कुंभ राशि
शुक्र का कुंभ राशि में गोचर के कारण आपको परिवार के लिए अधिक चिंता बनी रहेगी, जिसके कारण आपका मन किसी काम में नहीं लगेगा। कुछ शारीरिक पीड़ा होने के योग बन रहे हैं। प्रेम संबंध पर विचार करें तो विपरीत लिंग वाले व्यक्ति की ओर आकर्षण की भावना अधिक प्रबल रहेगी। उसके कारण आपके जीवन में नई स्फूर्ति आ सकती है। आपको सामान्य धन मिलने पर भी मन में असंतोष की भावना रह सकती है। आपका जीवनसाथी भी आपको उत्तम सहयोग प्रदान करेगा जिससे आपके परिवार में आनंद में वृद्धि होगी।

मीन राशि
शुक्र का कुम्भ में गोचर के कारण यह समय शुभ फलदायी रहेगा साथ ही विदेश संबंधी कार्यों के समाधान के लिए आपको अनुकूल अवसर प्राप्त होंगे। स्वास्थ्य संबंधित खर्च की संभावना है। त्वचा और आंखों की पीड़ा हो सकती है। कुछ कार्यों में खूब दौड़धूप के बाद भी फल न मिलने से निराशा घेर सकती है। आर्थिक रूप से लाभ बढ़ सकता है। काम-काज को आप उत्साह से कर सकेंगे। परिवार का सहयोग भी मिलेगा। कोई बड़ा निर्णय लेने में कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है। इसके कारण व्यवसायिक स्तर पर लाभ कमजोर पड़ सकता है।